raipur times
Homeधर्मDev Deepawali 2022: देव दीपावली आज, जानें इस दिन दीपदान का का...

Dev Deepawali 2022: देव दीपावली आज, जानें इस दिन दीपदान का का क्या है महत्व!

Dev Deepawali 2022 कार्तिक मास में हर साल देव दीपावली का त्योहार मनाया जाता है। इसे त्रिपुरोत्सव और त्रिपुरारी पूर्णिमा के नाम से भी जानते हैं। इस दिन भगवान शिव ने राक्षस त्रिपुरासुर का वध किया था, जिसकी खुशी में इस त्योहार को मनाया जाता है। देव दीपावली के दिन पवित्र नदी में स्नान व दान का विशेष महत्व होता है। देव दीपावली के दिन सूर्यास्त के बाद दीपदान भी किया जाता है।

वैसे तो ये पर्व मुख्य रूप से काशी में मनाए जाने की परंपरा है, लेकिन इस दिन किसी भी नदी या तालाब में दीपदान किया जा सकता है। मान्यताओं के अनुसार, इस दिन भगवान शिव ने त्रिपुरों का नाश किया था, इसलिए इसे त्रिपुरारी पूर्णिमा भी कहते हैं।

चंद्र ग्रहण के कारण आज मनाई जा रही देव दीपावली

Dev Deepawali 2022:  श्रीकाशी विद्वत परिषद के अनुसार, कार्तिक पूर्णिमा 7 नवंबर, सोमवार की दोपहर 3:58 से 8 नवंबर, मंगलवार की दोपहर 3:53 बजे तक रहेगी। 8 नवंबर को चंद्र ग्रहण होने के कारण इस दिन कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जा सकेगा। इसलिए 7 नवंबर, सोमवार को ही पूर्णिमा तिथि के संयोग में ये पर्व मनाया जाएगा। देव दीपावली पूजन का शुभ मुहूर्त शाम 05.14 से 07.49 तक है। पूजन की कुल अवधि 2 घंटे 32 मिनट की रहेगी।

ऐसे करें दीपदान

देव दीपावली पर दीपदान का विशेष महत्व है। मान्यता है कि इस दिन किसी पवित्र नदी में स्नान करने व दीपदान करने से पापों से मुक्ति मिलती है। घर में सुख-समृद्धि व खुशहाली आती है।

Dev Deepawali 2022: – देव दीपावली पर नदी या तालाब के किनारे दीपदान करने की परंपरा है, अगर वहां तक न जा पाएं तो घर भी दीपदान कर सकते हैं।
– सबसे पहले दीपक में तिल का तिले डालें और इसे प्रज्वलित करें। इसके बाद कुमकुम और चावल लगाकर इसकी पूजा करें।
– दीपक के हाथ जोड़कर घर की सुख-समृद्धि के लिए कामना करें। दीपक को नदी में तालाब में इस प्रकार छोड़ें कि वह डूबे नही।
– अगर घर पर दीपदान कर रहे हों तो इस दीपक को मंदिर में रखे दें और भगवान से घर की खुशहाली के लिए प्रार्थना करें।

Aaj Ka Rashifal 7 November 2022 : सूर्य की तरह चमकेगा इन राशियों का भाग्य…

- Advertisement -
raipur times
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments