raipur times
Homeदेशहीरा कारोबारी की 8 साल की बेटी बनी साध्वी, 35 हजार लोगों...

हीरा कारोबारी की 8 साल की बेटी बनी साध्वी, 35 हजार लोगों की मौजूदगी में ली दीक्षा

सूरत। Jain society: सूरत के बड़े हीरा कारोबारी धनेश संघवी की बिटिया देवांशी संघवी दीक्षा लेकर साध्वी दिगंतप्रज्ञाश्री बन गई हैं। देवांशी ने बुधवार को किर्तीयश सूरी जी महाराज के सानिध्य में अपनी गुरु साध्वी प्रिस्मीता श्रीजी से 35 हजार लोगों की मौजूदगी में दीक्षा ग्रहण की। देवांशी अपने गुरु के साथ करीबन 600 किमी की पदयात्रा भी कर चुकी हैं।दीक्षा लेने के बाद देवांशी संघवी को साध्वी प्रिसमीता श्रीजी ने साध्वी श्री दिंगत प्रज्ञा श्रीजी नाम दिया। देवांशी की माता अमी संघवी भी धार्मिक प्रवृति की हैं। उसी हिसाब से उन्होंने अपनी बड़ी बेटी देवांशी को धार्मिक संस्कार दिए हैं।

35 हजार लोग बने इस पल के साक्षी

Jain society: सूरत के वेसु इलाके में हुए इस दीक्षा समारोह में करीबन 35 हजार सामाजिक लोगों की मौजूदगी में दीक्षा की विधि पूरी की गई। इससे पहले देवांशी की शोभा यात्रा निकली गई, जिसमें हाथी-घोड़ा और बैंड बाजे के साथ लोग शामिल हुए।

Bharat Jodo Yatra: राहुल गांधी की सुरक्षा में चूक! सुरक्षा घेरे को तोड़कर करीब पहुंचा शख्स, लगाया गले

Jain society: सूरत और मुंबई में धनेश करते हैं हीरे का कारोबार

Jain society: धनेश सांघवी राजस्थान के सिरोही जिले के मालगांव के रहने वाले हैं। पिता मोहन भाई संघवी के साथ धनेश भाई संघवी सूरत और मुंबई में संघवी एंड संस के नाम से डायमंड का कारोबार करते हैं। धनेश की गिनती सूरत के बड़े हीरा कारोबारियों में होती है।

- Advertisement -
raipur times
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments