raipur times
Homeछत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ में भारी बारिश का अलर्ट: बिलासपुर-रायपुर,दुर्ग-बस्तर में रेड अलर्ट जारी....

छत्तीसगढ़ में भारी बारिश का अलर्ट: बिलासपुर-रायपुर,दुर्ग-बस्तर में रेड अलर्ट जारी….

 RAIPUR TIMES छत्तीसगढ़ में बारिश को लेकर फिर मानसून सक्रिय हो गया है। जिसके चलते प्रदेश के अधिकांश जिलों में शुक्रवार से तेज बरसात शुरू हो चुकी है। मौसम विभाग ने इस सीजन में पहली बार सरगुजा संभाग के जिलों में भारी बरसात की संभावना का आरेंज अलर्ट जारी किया है। वहीं बिलासपुर और रायपुर दुर्ग संभाग के कुछ जिलों में अति भारी बारिश का रेड अलर्ट है।

पहली बार सरगुजा में भारी बारिश की चेतावनी

मौसम विभाग के मुताबिक 20 अगस्त को प्रदेश के बिलासपुर, कोरबा, रायगढ़, जांजगीर-चांपा, मुंगेली और महासमुंद जिलों में एक-दो स्थानों पर अति भारी से सीमांत भारी बरसात होने की संभावना है।काेरिया, सूरजपुर, बलरामपुर, सरगुजा और जशपुर में कुछ स्थानों पर तेज हवाओं के साथ भारी वर्षा की संभावना जताई गई है। विभाग ने एक और चेतावनी में कहा है, रायपुर, बलौदा बाजार, गरियाबंद, धमतरी, दुर्ग, बालोद, राजनांदगांव, कबीरधाम, बेमेतरा, बस्तर, कांकेर और कोण्डागांव जिलों में कुछ स्थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है।

मौसम विभाग का कहना है कि, शनिवार को प्रदेश के अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने अथवा गरज-चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। कुछ स्थानों पर भारी से अति भारी वर्षा का अनुमान है। उसके लिए प्रशासन को चेतावनी जारी की गई है। इस साल मानसून में यह पहली बार है जब सरगुजा संभाग के जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी जारी हुई है। जुलाई और अगस्त मध्य तक कम वर्षा होने की वजह से सरगुजा संभाग में सूखे के हालात बन रहे थे। वहां खेती काफी प्रभावित हुई है। पिछले एक सप्ताह से बरसात होने लगी है।

इस मौसमी तंत्र से बन रहा है भारी वर्षा का योग

मौसम विज्ञानी एच.पी. चंद्रा ने बताया, एक गहरा अवदाब उत्तर-पूर्व बंगाल की खाड़ी के ऊपर स्थित है। यह लगातार पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा में आगे बढ़ रहा है। इसके बालासोर के पास तट से टकराने की संभावना है। इसके बाद यह लगातार पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा में आगे बढ़ते हुए उत्तर ओडिशा, पश्चिम बंगाल, झारखंड, उत्तर छत्तीसगढ़ होते हुए आगे बढ़ने की संभावना है, साथ ही उत्तर छत्तीसगढ़ पहुंचने के बाद थोड़ा कमजोर होने की संभावना है। मानसून द्रोणिका का पश्चिमी छोर हिमालय की तराई में और पूर्वी छोर गोरखपुर, गया, बंकोरा, दिया, गहरा अवदाब के केन्द्र से होते हुए दक्षिण-पूर्व की ओर पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी तक स्थित है। इसके प्रभाव से छत्तीसगढ़ में बारिश तेज होगी।

Banke Bihari : मथुरा : बांके बिहारी मंदिर में बड़ा हादसा जन्माष्टमी के मौके पर मची भगदड़, दो श्रद्धालुओं की मौत, कई घायल

 

इन 6 जिलों में अब भी कम बारिश

प्रदेश के 28 जिलों में में से 22 जिलों में वर्षा सामान्य अथवा उससे अधिक है। चार जिले रायपुर, दुर्ग, रायगढ़ और कोरबा में सामान्य बरसात हुई है। जबकि बिलासपुर, मुंगेली, जांजगीर-चांपा, महासमुंद, धमतरी, गरियाबंद, राजनांदगांव, कबीरधाम सहित 18 जिलों में सामान्य से अधिक बरसात है। वहीं एक जिले बीजापुर में बहुत अधिक बरसात हुई है। लेकिन सरगुजा संभाग के पांच जिलों कोरिया, जशपुर, सरगुजा, सूरजपुर और बलरामपुर के साथ दुर्ग संभाग के बेमेतरा में कम बारिश की स्थिति बनी हुई है। सरगुजा में तो अब तक 45% बरसात ही हो पाई है

- Advertisement -
raipur times
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments